How to remove Teeth pain without Madison

beautiful-teeth

दातो को clean और beautiful रखना बहुत अवसक है, teeth हमारे चेहरे को सुन्दर बनाते है ,दूसरा यह हमारी digestive system process का Part है ।

दांतो को साफ रखना बहुत आवश्यक है, क्योकि हम जो भी खाते है, उसका कुछ ना कुछ भाग दांतो के बीच मे फस जाता है ।


ओर वह कुछ समय बाद हानिकारक कीटाणुओं के पैदा होने का कारण बनता है, जिस से दांतो मे रक्त स्रावों ,दांतो से क्षय और मसूड़ों की सूजन जैसी स्वास्थय समस्याएं हो सकती है


अगर बचपन से आप दातो की देखभाल करते है तो old age मे हमे अधिक समस्याए नहीं आएगी|

बचपन से ही माताए अपने kids को health के बारे मे सिखाना प्रारम्भ कर देती है, जैसा की बचपन में हमारी माताए सिखाती थी ।
सबसे पहले सवेरे को उठ कर teeth को साफ करना है , fruits को teeth से काट कर खाना है ,sugarcane चूसना और चना चबाना यह सब आपके teeth को मजबूत बनाते है |

teethes को साफ रखने के लिए पहले इंडिया में जब toothpaste जैसे products नहीं होते थे , तो लोग या तो नीम या बबूल की दातुन से teeth साफ करते थे ।
कुछ घरेलू नुख्शे व् उपचार को प्रयोग में लाते है, जो की हमारी kitchen में वैदिक कल से ही चला आ रहा है |
वह है सरसो का तेल (mustered oil) , नमक (salt) और हल्दी (turmeric powder)इस सभी को मिला कर दातो पर रगड़ते है , यह नुख्शा इंडिया में सालों से ही प्रयोग में लिया जा रहा है

साल्ट से यहां हमारा मीनिंग सिंधी नमक से है क्योकि यह ीोडिन रहित होता है । नमक का वर्क यहां जर्मस को टीथ को क्लीन करके

टीथ को सूंदर और चमकदार बनाना है
सरसो के तेल का काम टीथ से फलक को दूर करना है , फलक का मीनिंग हमारा दाताओ के चारो तरफ बैक्टीरिआ के कारण एक लेयर सी बन जाती है, दिन में तो हम कुछ न कुछ खाते रहते है लेकिन रात में जब हम सो जाते है तो तब दातो पर यह लेयर आ जाती है।

टरमरिक एंटी बक्टेरिअल्स होता है , यह हमरे माउथ या दातो और मरसुडो पर जो हानि कारक बैक्टीरिया होते है उन्हे समाप्त करता है

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *