सिरदर्द में राहत कैसे करें? मुश्किल नहीं है पढ़ें ये 6 टिप्स

 

 

सिरदर्द एक ऐसा शब्द है, जिसे सुनते ही ऐसा लगता है, जीवन में कभी न कभी अधिकतर लोगो ने इसे महसूस किया है।
मेडिकल स्टोर या मेडिकल शॉप से इसके लिए दवाई जरूर खरीदी होगी। किसी किसी को यह बहुत कम और किसी किसी को यह
बार बार सिरदर्द की परेशानी से दो चार होना पड़ता है। कुछ सिरदर्द एसे होते है जो सामान्यतः आपके रहन सहन या खानपान की
वजह से होते है। लाइफस्टाइल ऐसा है, के आप भाग दौड़ में लगे रहते है।


सिरदर्द होने के कारण


   1. अधिकतर सिरदर्द भूख, शोरगुल, अधिक शारीरक व मानसिक काम, अत्याधिक इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण के प्रयोग से
        सिरदर्द हो सकता है।

   2. वातावरण, खानपान, पेट में गैस, या शरीर में किसी प्रकार का इंफेक्शन, कब्ज, एसिडिटी, अपच से भी सिरदर्द की
       समश्या हो सकती है।

सिरदर्द का उपचार

 

  1. जायफल को ताजे पानी में घिसकर इस लेप को मस्तक पर लगाने से सिर दर्द में शीघ्र लाभ होता है।

  2. गर्मी या सर्दी के कारण सिर दर्द  होने पर तेजपात को डंठल सहित पीसकर उसे हल्का गुनगुना

     करके मस्तक पर लेप करने से सिर दर्द ठीक हो जाता है।

  3. छोटी इलाइची का पीसकर सिर पर लेप करने से सिर दर्द में तुरंत लाभ होता है तथा इसके

     चूर्ण को सूंघने से छींके आकर मस्तक पीड़ा में लाभ होता है।

  4.  पांच लौंग पीसकर एक कप पानी में मिलाकर उबाले जब पानी आधा कप रह जाए तो इसे उतारकर छान ले।

       फिर इसमें चीनी मिलाकर दिन में दो बार सुबह श्याम पीने से कैसा भी सिर दर्द हो ठीक हो जाता है।


  5. गर्मी के कारण सिरदर्द होने पर सूखा धनिया 10 ग्राम और सूखा आंवला 5 ग्राम को रात्रि में 1 गिलास पानी में मिटटी

      के बर्तन में भिगो दें। और प्रातः काल वह पानी छानकर मिश्री मिलाकर सेवन करने से भी सिर के दर्द से पीछा छुड़ाया

      जा  सकता है।